Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

#WhereAreTheJobs नितिन गडकरी के ब्यान से मोदी सरकार की किरकिरी

हाल ही में रोज़गार के सवाल पर पी एम् मोदी ने सफाई देते हुए कहा था ,की देश में रोजगार की कोई समस्या नहीं हैं विपक्ष के पास आंकड़ो की कमी हैं

0 401

हाल ही में रोज़गार के सवाल पर पी एम् मोदी ने सफाई देते हुए कहा था ,की देश में रोजगार की कोई समस्या नहीं हैं विपक्ष के पास आंकड़ो की कमी हैं . अब नितिन गडकरी का एक ब्यान आया हैं की सरकार के पास रोजगार हैं ही नहीं . उनके इस ब्यान के बाद मोदी सरकार की काफी किरकिरी हो रही हैं .

NRC पर भाजपा के दोहरे मानदंड पर कांग्रेस का खुलासा ,भाजपा में हड्कन्म्प

गौर तलब हैं नितिन गडकरी मराठा आन्दोलन के बारे में आरक्षण पर ब्यान दे रहे थे . उन्होंने कहा की आरक्षण देने के बाद भी रोजगार नहीं हैं तब आरक्षण देने का लाभ क्या हैं . सकार के पास सरकारी  नौकरियां ही नहीं हैं . देर से ही सही भाजपा के किसी मंत्री ने माना की देश में रोजगार हैं ही नहीं , मोदी के ब्यान और उनकी कथनी पर सवाल उठाता हैं .  हमेश देश के हर समस्या के सवाल पर सरकार में रहते हुए कांग्रेस को कोसने वाले मोदी जी आज खुद सवालों के घेरे में आ खड़े हुए हैं . साथ ही उनके पी एम् पद की गरिमा को भी चोट पहुची हैं .

लोकसभा 2014 में प्रति वर्ष दो करोड़ नौकरियां देने का वायदा कर सत्ता के सिंहासन तक पहुचे मोदी जी झूठे साबित हुए हैं . सोशल मीडिया पर कांग्रेस ने भाजपा और पी एम् मोदी के दावो और उनके झूठ का पर्दाफाश जम कर हो रहा हैं .

राहुल गाँधी हुए भावुक जंतर मंतर पर दिखा तेज़स्वी यादव और राहुल गाँधी का दम

नितिन गडकरी के ब्यान से भाजपा के अन्दर भी घमासान हो रहा हैं . भाजपा के एक मंत्री द्वारा पी एम् मोदी के दावे परस्पर विरोधी हैं .रोजगार के सवाल पर पी एम् मोदी और उनके मंत्री उल जलूल बयानवाजी करते रहे हैं . खुद पी एम् मोदी कह चुके हैं  की एक ऑटो से तीन लोगो को रोजगार मिलता हैं ,कभी पकोड़े की दूकान को भी रोजगार बताने पर खुद को शावाशी देते नज़र आते हैं . असलियत तो ये हैं की पकोड़े नाम का रोजगार या तलने वाला ये रोजगार अधिकतर जहाँ नये कारखानों नयी कम्पनियों के दरवाजे पर मिलता वो नए निवीश कहाँ हैं जिनके आने का दावा पी एम् मोदी अक्सर करते रहते हैं . सरकारी तो बाद की बात हैं जिन प्राइवेट निजी कम्पनियों की वकालत पी एम् मोदी करते हैं उन्होंने भारत के किसी भी राज्य में रोजगार पैदा नहीं किये हैं .

राहुल गाँधी का इशारो इशारों में हमला गधा शेर की खाल ओढ़े बैठा हैं ,
You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.