Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी का चक्रव्यूह,क्या तोड़ पायेगा मोदी का सपना

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी आज महिला कांग्रेस कके एक सम्मलेन को संबोधित करने पहुचे तब वहाँ उनका जोरदार  स्वागत हुआ . पूरे देश से महिलाए यहाँ पहुची हुई थी

0 829

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी आज महिला कांग्रेस कके एक सम्मलेन को संबोधित करने पहुचे तब वहाँ उनका जोरदार  स्वागत हुआ . पूरे देश से महिलाए यहाँ पहुची हुई थी . महिलाओं के आरक्षण की जोरदार वकालत करते हुए मोदी सरकार से ले कर योगी सरकार को निशाने पर रखा . भाजपा नेताओं के महिला सम्बन्धी अपराधो में लिप्त होने की बात उन्होंने कही . महिला कार्यकर्ताओं के बीच गज़ब का आत्मविश्वास उनके आज के भाषण में था . राहुल गाँधी एक तरफ जहां संगठन के केडर को मज़बूत करने के लिए कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित कर रहे हैं वही उनका एक अलग प्लान लोकसभा चुनावों के मददे नज़र चल रहा हैं .

अरुण यादव होंगे एम्.पी दौरे में राहुल गाँधी के सारथी ,कांग्रेस में कद हुआ बड़ा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले ही अलग-अलग राज्यों में भाजपा के खिलाफ गठबंधन का जाल फैलाने के लिए पार्टी के रणनीतिकारों को मैदान में उतार दिया है. यूपी में सपा, बसपा और आरएलडी के साथ मिलकर कांग्रेस जहां महागठबंधन का हिस्सा बनने के लिए तैयार है, तो वहीं मध्य प्रदेश में भी मायावती के साथ गठबंधन तय माना जा रहा है. यूपी और मध्य प्रदेश के अलावा कांग्रेस ने झारखंड, महाराष्ट्र, बिहार, तमिलनाडु और केरल में अलग-अलग पार्टियों के साथ गठबंधन को अंतिम रूप दे दिया गया हैं .

अंजना ओंम कश्यप के कार्यक्रम में सकपकाई अंजना जब कांग्रेस प्रवक्ता राशीद अल्वी बोले सही मुद्दों पर बात हो

इसी तरह तमिलनाडु में कांग्रेस करुणानिधि की पार्टी डीएमके के साथ संपर्क में है. तमिलनाडु में लोकसभा की 39 सीटें हैं. यहां कांग्रेस और डीएमके के गठबंधन में लेफ्ट पार्टियां भी शामिल हैं. लेफ्ट पहले ही संसद के अंदर और बाहर कांग्रेस के साथ काम करने पर सहमति दे चुका है.. तमिलनाडु में फिलहाल कांग्रेस और डीएमके का एक भी सांसद नहीं है. 2014 के लोकसभा चुनाव में 39 सीटों में से एआईएडीएमके ने 37 और भाजपा ने एक सीट पर जीत दर्ज की थी, जबकि एक सीट अन्य के खाते में गई थी. ऐसे में कांग्रेस की कोशिश है कि राज्य में भाजपा के खिलाफ एक मजबूत गठबंधन तैयार किया जाए.

#WhereAreTheJobs नितिन गडकरी के ब्यान से मोदी सरकार की किरकिरी

महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी अध्यक्ष शरद पावर के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत अंतिम दौर में है. माना जा रहा है कि राज्य की कुछ छोटी पार्टियां भी इस गठबंधन का हिस्सा बन सकती हैं. वहीं, सूत्रों की मानें तो केरल में लेफ्ट और कांग्रेस साथ मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं. केरल में लोकसभा की 20 सीटें हैं, जिनमें से 8 पर कांग्रेस और 5 पर सीपीएम का कब्जा है. एक सीट सीपीआई के पास और बाकी अन्य के पास हैं. केरल में गठबंधन को लेकर हालांकि अभी आधिकारिक तौर पर किसी भी पार्टी की तरफ से कोई बयान नहीं आया है.

कांग्रेस का सबसे मजबूत महागठबंधन बिहार में है. बिहार के महागठबंधन में कांग्रेस और आरजेडी के साथ जीतनराम मांझी की ‘हम’ पार्टी भी शामिल है.  2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी, कांग्रेस और जेडीयू साथ मिलकर भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़े थे. हालांकि नीतीश कुमार की जेडीयू अब अलग हो चुकी है लेकिन इसके बावजूद बिहार में महागठबंधन को बेहद मजबूत स्थिति में देखा जा रहा है. दूसरी तरफ एनडीए में भाजपा, जेडीयू, एलजेपी और आरएलएसपी के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर खींचतान की खबरें लगातार सामने आ रही हैं.

राहुल गाँधी हुए भावुक जंतर मंतर पर दिखा तेज़स्वी यादव और राहुल गाँधी का दम

झारखंड में कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के शीर्ष नेतृत्व के बीच लंबे दौर की बातचीत के बाद गठबंधन पर सहमति बनती नजर आ रही है.अंदर के  सूत्रों के हवाले से खबर है कि झारखंड में कांग्रेस ने झामुमो के साथ गठबंधन के लिए सीटों के बंटवारे का फॉर्मूला तय कर लिया है. झारखंड में लोकसभा की 14 सीटें हैं, जिनमें से 12 पर भाजपा के सांसद हैं और 2 सीटें झामुमो के पास हैं. कांग्रेस और झामुमो के बीच गठबंधन के संकेत उसी वक्त मिलने शुरू हो गए थे, जब फरवरी में हेमंत शोरेन दिल्ली आए थे। हालांकि दोनों दलों के बीच सीट बंटवारे का आधिकारिक ऐलान होना अभी बाकी है.

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.