Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

श्री राम मंदिर के नाम पर भाजपा ने राजनीति की ,कांग्रेस बनायेगी राम मंदिर

स्वामी सुरेशानंद सरस्वती ने  कहा कि जब से देश में भाजपा सरकार बनी है, तब से देश के लोगों में असुरक्षा का भाव बढ़ा है. संतों को फर्जी मुकदमों में फंसाया जा रहा है. सीमा पर शहीद होने वाले सेना के जवानों की संख्या लगातार बढ़ रही है .

स्वामी सुरेशानंद सरस्वती
0 628

 

भाजपा के लिए सबसे ज्यादा प्रचार करने वाले संतो की राय भाजपा केबारेमें और उसके शीर्ष नेत्रत्व के बारे में बदलने लगी हैं . एक असंतोष साधू संतो के बीच फैलने लगा हैं . इसकी एक बानगी हरिद्वार में देखने को मिली .

श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के स्वामी सुरेश्वरानंद सरस्वती महाराज ने कहा हैं  कि भाजपा सरकार में अयोध्या में राम मंदिर बनने की कोई संभावना नहीं दिखाई दे रही है . भाजपा केवल मंदिर के नाम पर राजनीति कर रही है. अब कांग्रेस के कार्यकाल में ही राम मंदिर का निर्माण होना संभव है.

राहुल गाँधी का भाजपा पर तंज़ ,बोले भाजपा का पता नहीं कांग्रेस लायेगी बुलेट ट्रेन

स्वामी सुरेश्वरानंद ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जिस राम मंदिर के नाम पर भाजपा ने सरकार बनाई, भारतीय जनता पार्टी उसे भी भूल गई है. हालांकि देश की जनता को यह याद रखना होगा कि अयोध्या स्थित भगवान श्रीराम के दर्शन के लिए भी कांग्रेस कार्यकाल में ही ताले खुले थे और राम मंदिर का निर्माण भी कांग्रेस ही कराएगी.

स्वामी सुरेशानंद सरस्वती ने  कहा कि जब से देश में भाजपा सरकार बनी है, तब से देश के लोगों में असुरक्षा का भाव बढ़ा है. संतों को फर्जी मुकदमों में फंसाया जा रहा है. सीमा पर शहीद होने वाले सेना के जवानों की संख्या लगातार बढ़ रही है .

विपक्ष का नारा मोदी हटाओ नहीं ,असली नारा देश की जनता का” मोदी भगाओ “

कर्ज में डूबे किसानों की आत्महत्या के मामले बढ़े हैं. इन सभी मुद्दों पर केंद्र सरकार पूरी तरह असफल रही है . उन्होंने महाकुंभ से पहले हरिद्वार में सड़कों के चौड़ीकरण के कार्यों को जल्द पूरा करने की मांग की हैं  .

हरिद्वार में फ़ैल रही कुवय्वस्था के लिए उन्होंने राज्य सरकार को जिम्मेवार बताया हैं .

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के बिना भाजपा में पत्ता नहीं हिलता ,मोदी करते हैं जुमलेबाज़ी

 

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.