Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

क्या तोगड़िया और शिवसेना मोदी और शाह का बिगाड़ेंगे खेल,भाजपा में हड्कंम्प

उद्धव ठाकरे समझ गये हैं की शिव सेना के हिंदुत्व के अजेंडे का अपरहण भाजपा ने उससे कर अपनी नींव महाराष्ट्र में मज़बूत की हैं . उसको और पोषण देना शिव सेना के सियासी वजूद को खतरा हैं .

0 911

भाजपा का तेजी से गिरता हुआ ग्राफ और अमित शाह की उद्धव ठाकरे से भी नहीं बनी बात ,उद्धव ठाकरे समझ गये हैं की शिव सेना के हिंदुत्व के अजेंडे का अपरहण भाजपा ने उससे कर अपनी नींव महाराष्ट्र में मज़बूत की हैं . उसको और पोषण देना शिव सेना के सियासी वजूद को खतरा हैं .

श्री राम मंदिर पर भाजपा ने यू टर्न लेते हुए ,विकास के मुद्दे पर लोकसभा चुनावो में जाने की बात कह दी हैं . जिस पर तमाम हिन्दू साधू संत भड़क उठे हैं . उनका भी ब्यान आ गया हैं भाजप अगर राम मंदिर नहीं बनाती तब यू पी में अपने जीतने की आस छोड़ दे. डेमेज कंट्रोल करने के लिए हालांकि मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अपने मंत्रियो के साथ मीटिंग कर रहे हैं .

भाजपा के भटकते शाह द्वारे द्वारे ,शरद पवार ने शिव सेना पर डोरे डाले

हिदुत्व के अजेंडे पर भाजपा को हिन्दू वादी पार्टी मानने वाले लोगो का भी भ्रम अब टूटने लगा हैं .

प्रवीण तोगड़िया, जो कि कुछ समय पहले विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष थे, अब खुलकर पी एम्  मोदी के विरुद्ध आ गए हैं .

असाम में अभी हाल ही , जहां भाजपा की सरकार है, में बजरंग दल ओर विहिप के कई कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा दे देकर तोगड़िया के साथ जाने का फैसला कर लिया हैं .

अब प्रवीण तोगड़िया जा रहे हैं, मंदसौर की राह पकड़ने को तैयार हैं .. मंदसौर मध्य प्रदेश का वही जगह है, जहां पिछले साल 6 जून को विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस ने गोलियां चला दी थीं, जिसके बाद 5 किसानों सहित 6 लोगों की जानें चली गई थीं.
मंदसौर में बीते हुए कल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी रैली को संबोधित किया हैं .

पीपल्या मंडी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का चुनावी शंखनाद ,भाजपा में बैचैनी

तोगड़िया का मंदसौर जाना इसलिए भी अहम माना जा रहा है, क्योंकि यहां पर वो किसानों के लिए भाजपा से नाराज़ चल रहे शत्रुघ्न सिंहा और यशवंत सिंहा के साथ रैली करने वाले हैं.

रैली से पहले तोगड़िया ने साफ कहा है कि मोदी सरकार किसानों के साथ ज़्यादती कर रही है। तोगड़िया वहां जा कर मोदी सरकार की नीतियों और किसानों की हालात जानना चाह रहे हैं।
शत्रुघ्न सिंहा और यशवंत सिंहा के साथ रैली करने से ये साफ संदेश जाने वाला है कि हिंदुत्व के मुद्दे पर भाजपा और सीधे तौर पर नरेंद्र मोदी को घेरने वाले हैं. इसके साथ ही ये भी देखा जाना रोचक होगा कि किस तरह से शत्रुघ्न सिंहा और यशवंत सिंहा तोगड़िया के समर्थन में अपनी बात रखते हैं.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव दा की बेटी ने संघ कार्यालय जाने को ले कर दी पिता को नसीहत
389 Shares

Leave A Reply

Your email address will not be published.