Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

भाजपा के भटकते शाह द्वारे द्वारे ,शरद पवार ने शिव सेना पर डोरे डाले

भाजपा के सहयोगी दलों द्वारा बागे तेवर दिखाए जाने के बाद भाजपा के अमित शाह डेमेज कंट्रोल में जुट गये हैं .इसी कवायद में वो शिव सेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से आज मुलाकात कर रहे हैं

0 545

भाजपा के सहयोगी दलों द्वारा बागे तेवर दिखाए जाने के बाद भाजपा के अमित शाह डेमेज कंट्रोल में जुट गये हैं .इसी कवायद में वो शिव सेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से आज मुलाकात कर रहे हैं .उसके बाद नितीश कुमार से उनका मिलना बाकी हैं . जिन्होंने देर से ही सही नोट बंदी को एक गलत कदम बता डाला हैं .

सियासी घाघई में ये सारे नेता बहुत आगे हैं . शरद पंवार ने भी शिवसेना पर डोरे डालने शुरू कर दिए हैं . उन्होंने एक सार्वजनिक ब्यान में कहा हैं की पाल घर लोकसभा सीट से शिव सेना को सबक लेना चाहिए की उसको विपक्ष के साथ खड़े हो कर देश के लोकतंत्र को बचाना चाहिए . शिव सेना अगर कांग्रेस युक्त गठबंधन में आती हैं तब ये और भी ठीक होगा .

असाम में गिर सकती हैं भाजपा की सरकार ,एक और सहयोगी पार्टी ने छोड़ा साथ

मोदी सरकार और भजपा के शीर्ष को भी अहसास हो चला हैं की हवा का रुख उल्टा हो चला हैं .  पी एम् मोदी का नया जुमला आज ही रिलीज हुआ हैं 2022 तक सबको घर देने का ., पंद्रह लाख खाते में ,और एक करोड़ रोजगार के वायदे की तरह .

अब मोदी को कोई भी गंभीरता से नहीं लेता . जिस रंग को लगा कर वो सियासी जंगल में अपने आप को दूसरो से श्रेष्ठ दिखा रहे थे . वो रंग उनकी असफलताओ के पानी से उतर चूका हैं . असलियत देश की जनता समझ गयी हैं ,वो वास्तव में क्या हैं लोगो को समझ आ गया हैं .

बसपा सुप्रीमो मायावती के साथ तीन राज्यों में गठबंधन कर चुनाव लडेगी कांग्रेस ,

जो एक जननेता के तौर पर सड़ी हुई नफरत की सोच बाँट सकता हैं उसके अलावा कुछ नही ..

सत्ता के लिए जो कुछ भी कर जाए . वो चाहे नैतिक हो या अनैतिक

मंहगाई बेरोजगारी किसानो की आत्महत्या ,अमीरों के कर्जे माफ़ . रोज बेंको के नये घोटाले इन बीते चार सालो में मोदी भले ही दावा करे की उन्होंने एक दिन की भी छुट्टी नहीं ली . तब क्या चुनाव प्रचार देश हित में किया गया कार्य था ?

बस इन चार सालो में बड़े बड़े शो हुए ढिंढोरे पीटें गये झूठ के ,और फीते काटे गये पिछली सरकार की उपलब्धियों को अपना बता कर .

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी में कम से कम इतना साहस तो हैं की वो जनता से सीधे संवाद कर सकते हैं . चुभते प्रश्नों का सामना कर सकते हैं . एक साफगोई उनके सफ़ेद कपड़ो की तरह नज़र आती हैं . मासूम सी मुस्कान जो भविष्य के भारत का सपना दिखाने का वायदा और आस दिखाती हैं .

पी एम् मोदी से नाराज़ सांसद ,तो योगी भाजपा के विधायक ,बाहर आयी भाजपा की कलह
389 Shares

Leave A Reply

Your email address will not be published.