Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के संस्कारों के सामने पड़ गये फीके भाजपा के संस्कार

बीते रोज़ देश में दो घटनाक्रम हुए जो महत्त्व पूर्ण थे . एक तरफ कांग्रेस ने अपना पहला ओ बी सी प्रकोष्ठ जिसके सम्मलेन को राहुल गाँधी ने संबोधित किया

0 742

बीते रोज़ देश में दो घटनाक्रम हुए जो महत्त्व पूर्ण थे . एक तरफ कांग्रेस ने अपना पहला ओ बी सी प्रकोष्ठ जिसके सम्मलेन को राहुल गाँधी ने संबोधित किया . उसके बाद उनके भाषणों को ले कर तोड़मरोड़ कर ट्रोल करने की कोशिश सोशल मीडिया पर हुई .साथ ही आपस में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही समर्थको के बीच तीखी झड़प देखने को मिली .

दूसरा घटना क्रम था भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को एम्स में भर्ती कराया गया . यूँ तो उनको देखने के लिए एक चिकत्सको का दल उनके साथ ही रहता हैं . पर वज़ह कुछ ख़ास थी . जिसका खुलासा बाद में होने वाला था .

हार्दिक पटेल का बड़ा ब्यान ,लोगो को लगता हैं तो हां में कांग्रेस का एजेंट हूँ

भाजपा ने भी एक प्रेस रिलीज़ जारी कर दिया था . इस प्रेस रिलीज में बताया गया की अटल बिहारी जी को जनरल चेक अप के लिए भर्ती किया गया हैं .

शाम होने तक कोई भी भाजपा का बड़ा नेता उनको देखने नहीं पंहुचा था . एकाकी निस्प्रह वयोवृद्ध भाजपा का योद्धा एक वार्ड में कुछ चिकत्सको की देखरेख में अकेला था . सत्ता के शीर्ष पर सत्ता की शक्ति की पराकाष्ठा देख चूका भारत का एक भूत पूर्व पी एम् अपनी जीर्ण शीर्ण काय के साथ जिदगी की जंग लड़ रहा था .

अचानक शाम को राहुल गाँधी सबसे पहले नेता थे जो एम्स में भाजपा के पूर्व पी एम् का हाल चाल जानने के लिए पहुचे थे . यहाँ से सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के अटल जी का हाल चाल जानने को ले कर कांग्रेस अध्यक्ष की तारीफों के पुल बांधे जाने लगे .

जब ज्योतिरादित्य सिंधिया के युवराज निकले सडको पर ,साधा सीधे मोदी पे निशाना

राहुल के इस कदम की सोशल मीडिया पर सराहना हो रही है, न्यूज एंकर साक्षी जोशी ने टिप्पणी करते हुए कहा है कि

जिसकी माँ की बीमारी का मज़ाक़ बनाया था वो आज मज़ाक़ बनाने वालों के ‘पिता’ को अस्पताल में मिलने पहुँचा. राजनीति से भी ऊपर संस्कार होते हैं जो सिर्फ़ माता पिता डाल सकते हैं। संस्कार के मामले में तो ‘इटली’ हमसे ऊपर नज़र आ रहा है.

जिसकी माँ की बीमारी का मज़ाक़ बनाया था वो आज मज़ाक़ बनाने वालों के ‘पिता’ को अस्पताल में मिलने पहुँचा . भाजपा नेताओं की जैसे नींद टूटी ..

भाजपा के नेताओं की बहुत सी रणनीतिया उसके सोशल मीडिया डिपार्टमेंट से तय होती हैं . राहुल गाँधी का ज़िक्र होना और सराहना होना ,भाजपा नेताओं की नींद उड़ाने के लिए काफी था . फिर भाजपा के पी एम् से ले कर गृह मंत्री स्वास्थ्य मंत्री अटल बिहारी जी के आस पास फोटो खीचते नज़र आये .

सुबह जारी की गयी भाजपा के द्वारा प्रेस रिलीज भी झूठी निकली ,एम्स के चिकित्सको ने भूत पूर्व पी एम् को यूरिन संक्रमण और फेफड़े के निचले भाग में संक्रमण बताया .

चलो राहुल गाँधी ने एक तरह से भाजपा के संस्कारों को  गांधियन संस्कारों का करारा तमाचा जड दिया था . जिसकी छाप भाजपा नेताओ के चेहरों पर साफ़ नज़र आ रही थी .

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी से जयवर्धन सिंह की मुलाक़ात ,मिल सकती हैं बड़ी जिम्मेवारी

 

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.