Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

2019 की तैयारी बना प्रोजेक्ट “SHAKTI”,सीधे कार्यकर्ता करेंगे राहुल गाँधी से बात

इस प्लेटफॉर्म को आगे वेबसाईट या मोबाइल ऐप का रूप भी दिया जा सकता है जिससे कार्यकर्ताओं को अपनी बात सीधा कांग्रेस नेतृत्व तक पहुंचाने का मौका मिलेगा. डाटा टीम सीधा राहुल गांधी को ही रिपोर्ट करेगी

0 150

प्रोजेक्ट “Shakti “

SHAKTI – सिस्टम फॉर हायरकी एडमिनिस्ट्रेशन नॉलेज ट्रांसफर एंड इन्फॉर्मेशन

दरअसल हाल में ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक स्पेशल डाटा डिपार्टमेंट बनाया है. ‘प्रोजेक्ट शक्ति’ की पूरी जिम्मेदारी इसी विभाग की है. कांग्रेस डाटा विभाग के प्रमुख प्रवीण चक्रवर्ती ने प्रोजेक्ट के बारे में मीडिया को बताया कि अपने मोबाइल नम्बर से जैसे ही कोई कार्यकर्ता अपना वोटर कार्ड नम्बर मैसेज करेगा वैसे ही उसका पता, बूथ आदि जानकारी पार्टी के पास पहुंच जाएगी.

लाखो करोड़ डकारने को तैयार भाजपा की योगी सरकार ,बड़ा खुलासा

रजिस्टर करवाने वाले कार्यकर्ताओं को अलग-अलग श्रेणियों में बांटा जाएगा और उनके पास जानकारियां पहुंचाई जाएंगी. प्रवीण ने बताया  कि इस प्लेटफॉर्म को आगे वेबसाईट या मोबाइल ऐप का रूप भी दिया जा सकता है जिससे कार्यकर्ताओं को अपनी बात सीधा कांग्रेस नेतृत्व तक पहुंचाने का मौका मिलेगा. डाटा टीम सीधा राहुल गांधी को ही रिपोर्ट करेगी

. वोटर कार्ड नम्बर एक सार्वजनिक सूचना है और इसे साझा करने से निजता का उल्लंघन नहीं होता. उन्होंने ये भी स्पष्ट किया कि ‘प्रोजेक्ट शक्ति’ बीजेपी के ‘मिस कॉल अभियान’ से प्रेरित नहीं है बल्कि उसके मुकाबले कार्यकर्ताओं की फौज खड़ी करने का कहीं बेहतर और अनूठा तरीका है.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के कन्नड़ दांव से भाजपा कर्नाटक में होगी धराशायी

कांग्रेस की डाटा टीम के पास लगभग 84 करोड़ वोटरों का डाटा बेस है. इसी से कार्यकर्ताओं की डिटेल पार्टी के पास आ जाएगी. साथ ही अगर कोई बाहरी व्यक्ति रजिस्ट्रेशन करवाना चाहेगा तो उसकी डिटेल को खंगाल कर उसे बाहर भी कर दिया जाएगा.

दिल्ली के कार्यकर्ता 9223113333 पर अपना वोटर कार्ड नम्बर मैसेज करके रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने इसका एलान करते हुए कहा कि 7 से 17 मार्च के बीच 1 लाख कार्यकर्ताओं को रजिस्टर करवाने का लक्ष्य है. माकन ने कहा कि कार्यकर्ताओं को एकजुट करने की ये रणनीति पार्टी के लिए काफी महत्वपूर्ण राजनीतिक हथियार  साबित होगी.

प्रोजेक्ट शक्ति के लिए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक वीडियो मैसेज भी जारी किया है जिसमें वो कार्यकर्ताओं को ‘शक्ति’ की अहमियत बताते हुए इससे जुड़ने की अपील कर रहे हैं. जाहिर है नए अध्यक्ष के नेतृत्व में 2019 की बड़ी लड़ाई से पहले कांग्रेस नए-नए बदलाव कर रही है. इससे पार्टी को कितनी शक्ति मिलेगी और ये कितने कारगर होंगे ये तो आने वाला समय बतायेगा .

झारखंड में राहुल गांधी का गठजोड़ हेमत सुरेंन के साथ देंगे भाजपा को चुनौती

 

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.