Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

सोनिया गाँधी का दमदार आक्रामक भाषण ,गूँज उठा तालियों से अधिवेशन स्थल

कांग्रेस अधिवेशन का दूसरा दिन कार्यकर्ताओं के उत्साह से सरोबोर अधिवेशन स्थल आज एक अलग ही कहानी सुबह से कह रहा था अधिकतर नेताओं के बोलने के बाद वो पल भी आया

0 49

कांग्रेस अधिवेशन का दूसरा दिन कार्यकर्ताओं के उत्साह से सरोबोर अधिवेशन स्थल आज एक अलग ही कहानी सुबह से कह रहा था अधिकतर नेताओं के बोलने के बाद वो पल भी आया जब कांग्रेस की पूर्व अध्यक्षा सोनिया गांधी मंच पर आयी थी अपना संबोधन देने ….

सोनिया गांधी ने कांग्रेस महाधिवेशन में कहा कि मैं नए अध्‍यक्ष राहुल गांधी को बधाई देना चाहती हूं. मैं उनका अभिनंदन करती हूं और उन्‍हें शुभकामनाएं देती हूं. उन्‍होंने बहुत चुनौतीपूर्ण समय में यह उत्तरदायित्व  संभाला है. हम सभी को ऐसे समय में मिल जुलकर उनके साथ काम करना चाहिए.

यह समय अपनी निजी आकांक्षाओं को देखना का नहीं है. बल्कि ये देखने का है कि पार्टी का हर शख्‍स उसके लिए क्‍या-क्‍या कर सकता है. यह देखने का समय है कि महान पार्टी को कैसे ऊपर लेकर जाया जाए. पार्टी की जीत ही हम सबकी जीत का लक्ष्‍य होना चाहिए.

अन्ना आन्दोलन के ईमानदार नेता के झूठ ,जिसने देश बदल दिया ,आप में बगावत

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस एक रानीतिक दल नहीं है, बल्कि आगे की सोच है. कांग्रेस में लोगों को संपूर्ण भारतीय संस्‍कृति की झलक दिखाई देती है. कांग्रेस फिर से वो पार्टी बने जो देश का एजेंडा तय करे. देश के विभिन्‍न लोगों की पार्टी की उम्‍मीदों की पार्टी बने. कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का ऐसा शानदार प्रदर्शन हो कि देश की राजनीति को एक नई दिशा मिले.

उन्होंने कहा कि आज केवल एक ही बात मायने रखती है कि जिस महान पार्टी से हमारा पुराना नाता है, उसे कैसे और मजबूत बनाई जाए ताकि पार्टी को जीत मिले. पार्टी की जीत देश की जीत होगी, पार्टी की जीत सबकी जीत होगी. कांग्रेस पार्टी से सभ्यता की झलक मिलती है.

सोनिया गाँधी ने कहा  कहा कि कांग्रेस एक ऐसी पार्टी बने जो सभी वर्गों की नुमाईंदगी करे और सबको लेकर चले. कांग्रेस वैसी पार्टी बने जो देश को एक सूत्र को बांधकर ले चले.

उन्होंने कहा मुझे याद हैं एक बार पार्टी के बुरे समय में इन्दिरा जी चिकमगलूर से चुनाव लडी थी और कांग्रेस ने जोरदार वापसी की थी कि अगले कुछ महीने में कर्नाटक चुनाव में हमारी पार्टी का एक ऐसा शानदार प्रदर्शन हो जिससे देश की राजनीति को एक नई दिशा मिले.

जिग्नेश मेवाणी का यू पी के दलित युवाओं में क्रेज ,बसपा खत्म होने की कगार पर

गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश में हमारे परिश्रम से हुई जीत से पता चलता है कि जो अपनी राजनीति से हमारे  अस्तित्व को मिटाना चाहते हैं, उन्हें ये नहीं पता कि अभी भी देश के लोगों के दिल में कांग्रेस के लिए कितना सम्मान और भाव है.

राजनीति में मेरे प्रवेश का कारण आप जानते हैं. परिस्थितियों की वजह से मुझे सार्वजनिक जीवन में आना पड़ा. मैं राजनीति की दुनिया में कभी नहीं आना चाहती थी, मगर जब मुझे लगा कि अब पार्टी खतरे में है इसलिए पार्टी की जन भावनाओं को समझते हुए पार्टी की नेतृत्व को संभाला.

सोनिया गांधी बोलीं कि आप सभी के सहयोग और सम्मान ने मुझे शक्ती दी. मैं जब पीछे मुड़कर देखती हूं तो ऐसा लगता है कि हमारी पार्टी ने लोगों का विश्वास जीतने के लिए कितनी मेहनत  की है. एक एक कदम बढ़ा कर हमने 1998 से 2004 के बीच में हमने कई राज्यों में सरकार बनाई और पार्टी को मजबूत बनाया. इससे कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ा.

1998 में पञ्च मनी के अधिवेशन में तय हुआ था कि कांग्रेस को दूसरे के साथ गठबंधन नहीं करना चाहिए. मगर हमने बाद में शिमला के चिंतन शिविर में फैसला लिया की हम समान विचार वाले लोगों के साथ मिलकर काम करने का विचार किया. फिर 2004 में हमने सरकार बनाई.

“मोहे तू रंग दे बसंती” गाने के बोलो के साथ कांग्रेस अधिवेशन की शुरुआत

काम की बदौलत हम फिर 2009 में मजबूती से आए. सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनका न खाऊंगा न खाने दूंगा का वादा सिर्फ और सिर्फ  ड्रामेबाजी था.

सत्ता तक पहुचने के लिए झूठ बोला गया ..

उन्होंने कहा कि केंद्र ने कांग्रेस ने मनमोहन सिंह के नेतृत्व में सरकार बनाई और हम अपने लक्ष्य़ में कामयाब रहे. यूपीए की सरकार में देश की अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ी. आर्थिक वृद्धि के दर अभी तक के सबसे ऊंचे स्तर पर रहे हैं. हमने कई ऐतिहासिक और क्रांतिकारी योजनाओं को लागू किया. हमने मनरेगा, सूचना का अधिकार और कई योजनाओं से करोड़ों लोगों को फायदा पहुंचा.

कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनि‍या ने कहा कि आज देखकर बहुत दुख होता है कि हमारी ऐसी सफल योजनाओं को मोदी सरकार बर्बाद कर रही है, उसे कमजोर कर रही है.

सत्ता के नशे में मोदी सरकार मदमस्त है. सत्ता के अहंकार के आगे न कांग्रेस झुकी है ना झुकेगी. विपक्ष के खिलाफ फर्जी मुक़दमे लगाना, मीडिया को सताना, ये काम कर रही है तानाशाह मोदी सरकार. और इसके खिलाफ कांग्रेस लड़ती रहेगी. उन्होंने कहा कि क‍ि कुर्सी के लिए पीएम मोदी झूठी नारेबाजी कर रहे हैं, कांग्रेस उन्हें 2019 में सबक सिखाएगी.

अल्प मत में आयी भाजपा ,क्या भीतर घात से गिर जायेगी मोदी सरकार ?

कांग्रेस मोदी सरकार के झूठो का पर्दाफाश करती रही हैं . और करती रहेगी .

सोनिया गाँधी के भाषण में कई बार कार्यकर्ताओं का जोश उबाल मार रहा था . तालियों की गडगडाहट के साथ भाषण का समापन वाकई शानदार था . एक आक्रामक और अपनी शैली में मोदी सरकार पर आक्रामक वार था .

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.