Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन साल की सजा के साथ जुर्माना

बहु प्रतीक्षित केस में आज लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले में न्यायधीश शिवपाल ने साढ़े तीन साल की सजा सुना दी हैं .

0 80

बहु प्रतीक्षित केस में आज लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले में न्यायधीश शिवपाल ने साढ़े तीन साल की सजा सुना दी हैं .

चारा घोटाले से जुड़े और देवघर कोषागार से 89 लाख, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी के मुकदमे में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को सीबीआई अदालत ने साढ़े तीन साल की सजा सुनाई है.

लालू प्रसाद यादव के ऊपर   5 लाख रुपये जुर्माना भी लगाया गया है. जज शिवपाल सिंह ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लालू और अन्य दोषियों को सजा सुनाई. सजा पर फैसले के बाद लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि लालू जी को जमानत मिल जाएगा . हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है. हमलोग झुकने वाले नहीं हैं.

बोले तोगड़िया उच्च पदस्थ नेता कर रहा हैं मेरे खिलाफ साज़िश, मचा हड्कंम्प

सी बी आई का अदालत के फैसले को तेज प्रताप यादव चुनौती ज़रूर देंगे . इस फैसले से मोदी सरकार द्वारा एक परिवार के ऊपर इतनी सारी सी  बी आई ,आई डी पता नहीं कितनी  रेड डाली गयी …

दमन की सारी सीमाए टूट गयी . परन्तु यादव परिवार का हौसला नहीं टूटा .

भाजपा की ये अनोखी सरकार अपने जेट घोटाले पर चुप हैं . अमित शाह के पुत्र जय शाह के कारोबार पर चुप हैं . चिक्की घोटाले पर चुप हैं . व्यापम पर जुबां खामोश हैं . अपने हर काले कारनामे पर सियासी आरोपों का एक कम्बल विपक्ष को उड़ा दिया जाता हैं .

राहुल गाँधी का मिशन कर्नाटक शुरू ,सारे नेता अब होंगे कर्नाटक में

देश की अर्थवयवस्था के साथ जो घोटाला हुआ उस पर हर कोई चुप हैं . बस एक ही अपराधी मोदी सरकार को नज़र आता हैं . जो उसका विरोध करता हैं .

राजनैतिक शत्रुता के लिए इस हद तक चले जाना उस दल के साथ मिल कर बिहार में सरकार बना लेना जिसके विरुद्ध चुनाव लड़ा हो . आश्चर्य जनक तब और हो जाता हैं जब बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार और उनके दल के लोग राजनैतिक कटाक्ष करने से भी पीछे नहीं हटते.

राजनैतिक मर्यादाओं का पतन नहीं मर्यादाये ही समाप्त हो गयी हैं .

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.