in ,

हार्दिक पटेल की पसंद का नेता बना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की पसंद

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने  ने पाटीदार विधायक और पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति  के नेता हार्दिक पटेल के करीबी और पसंदीदा परेश धानाणी को शनिवार को पार्टी के विधायक दल का नेता बनाने की मंजूरी दे दी हैं .

choice

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने  ने पाटीदार विधायक और पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति  के नेता हार्दिक पटेल के करीबी और पसंदीदा परेश धानाणी को शनिवार को पार्टी के विधायक दल का नेता बनाने की मंजूरी दे दी हैं .

परेश धानाणी 14वें गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में अमरेली विधानसभा क्षेत्र से विजयी घोषित हुए थे. उन्होंने अपने नजदीकी प्रतिद्वंदी बावकू उन्धाद को 12029 वोटों से करारी हार  दी थी .

अमरेली विधानसभा अमरेली के अन्दर आती है, यहाँ से परेश धानाणी ने जीत हासिल की है,पिछली बार भी यहाँ से कांग्रेस के परेश धानाणी ने जीत की पताका लहराई थी .

अमरेली के 41 वर्षीय विधायक परेश धानाणी ग्रेजुएट हैं.

एम्.पी के विधान सभा चुनावों पर जब बोले दिग्गी राजा पुत्र जयवर्धन सिंह

दिसंबर के पहले हफ्ते में ही गांधीनगर में पास नेता हार्दिक पटेल ने अमरेली में आरक्षण और किसानों को होने वाली परेशानियों पर केंद्रित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि अमरेली से कांग्रेस कैंडिडेट विधायक के नहीं, बल्कि मुख्यमंत्री के उम्मीदवार हैं, किसान के बेटे को मुख्यमंत्री बनाना चाहिए.

यहाँ गौरतलब हैं एक जनसभा  को संबोधित करते हुए हार्दिक ने कहा था कि पिछले 25 सालों से मूर्ख और नपुंसक जैसे विधायक को बिठाया गया है. उनके इस बयान से पूरे राज्य में वातावरण गरमा गया था. जब इस पर नेताओं की प्रतिक्रियाएं जानने की कोशिश की गई, तो नेता पल्ला झाड़ते दिखाई दिए थे .

बोले तोगड़िया उच्च पदस्थ नेता कर रहा हैं मेरे खिलाफ साज़िश, मचा हड्कंम्प

तीन और चार जनवरी को अहमदाबाद में विधायक दल के नेता के चयन के लिए नवनिर्वाचित 77 विधायकों के साथ बैठक हुई थी। इसमें गहलोत और केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने भाग लिया था .

राजस्थान के चुनाव प्रभारी अशोक गहलोत ने बताया कि अभी केवल परेश धानाणी के चयन पर मुहर लग चुकी हैं  उपनेता समेत अन्य पदों पर निर्णय बाद में होगा. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी ने परेश धानाणी के चयन पर उन्हें बधाई दी है.

मुख्य विपक्षी दल का नेता बनने के बाद वह विधानसभा में विपक्ष के नेता भी होंगे।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को साढ़े तीन साल की सजा के साथ जुर्माना
हार्दिक पटेल की पसंद का नेता बना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की पसंद
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

legislative

एम्.पी के विधान सभा चुनावों पर जब बोले दिग्गी राजा पुत्र जयवर्धन सिंह

concludes

राहुल गाँधी का बहरीन दौरा ,मुख्य अतिथी के तौर पर देंगे समापन भाषण