in ,

लोकसभा में कांग्रेस का ये बड़ा दांव कर देगा भाजपा को भौचक्का ,

देश में गुजरात चुनाव के बाद लोकसभा का मौसम सर्दी में गर्मी का अहसास करा रहा हैं . कांग्रेस ने गुजरात चुनाव के बाद गुजरात में अपनी ख़ास योजना के तहत अपने प्लान को साली जामा पहनाना शुरू कर दिया हैं

wager

देश में गुजरात चुनाव के बाद लोकसभा का मौसम सर्दी में गर्मी का अहसास करा रहा हैं . कांग्रेस ने गुजरात चुनाव के बाद गुजरात में अपनी ख़ास योजना के तहत अपने प्लान को असली  जामा पहनाना शुरू कर दिया हैं .2018 में कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. सभी पार्टियां इसकी तैयारियों में जुटी हुई हैं.

बीते दिनों हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को कड़ी टक्कर दी थी. यहां बीजेपी ने जीतकर सरकार तो बना ली थी लेकिन कांग्रेस ने गजब का प्रदर्शन किया हैं  गुजरात में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी कई मंदिरों में गए थे. उन्होंने नरम हिंदुत्व कार्ड खेला था.

क्या लोकसभा चुनावों में टूट जाएगा अखिलेश यादव और राहुल गाँधी का दोस्ताना

अब उसी तर्ज पर कांग्रेस गुजरात के सौराष्ट्र के इलाके में 148 राम मंदिरों को पूजा सामग्री उपलब्ध करवाएगी. भाजपा को भाजपा के कार्ड से परास्त करने जा रही हैं कांग्रेस .कांग्रेस ने सौराष्ट्र में शानदार प्रदर्शन किया . कांग्रेस अब सौराष्ट्र के 148 गाँव में राम मंदिरों का काय कल्प करने जा रही हैं . इसके तहत कांग्रेस ने हर गाँव में श्री राम सूर्योदय संध्या आरती कमेटी का गठन करेगी .

कांग्रेस इन मंदिरों में पूजा की एक किट उपलब्ध करायेगी . कार्यकर्ता हर सप्ताह १४ बार नियम से उन मंदिरों में आरती और पूजा करेंगे .कांग्रेस के नेता परेश धनानी ने बताया पूजा के लिए प्रयोग होने वाली सामिग्री जैसे शंख नंगाडा झालर आदि उपलब्ध कराये जायेंगे .धनानी ने कहा ये पार्टी का नहीं ये मैंने अपने एक एन जी ओ के माध्यम से करूँगा .१४८ मंदिरों में से अकेले ११८ मंदिर अमरेली विधान सभा में ही हैं . जो की धनानी का चुनाव क्षेत्र हैं .

ब हार्दिक जिग्नेश और अल्पेश के साथ 2019 का महारण राहुल गांधी करेंगे उद्घोष

यहाँ गौरतलब हैं की विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष २०मन्दिरो में दर्शन हेतू गये थे . काँग्रेसने गुजरात में लोकसभा चुनावों की तैयारी शुरू कर दी हैं .

वीडियो कोना  राजस्थान चुनाव

लोकसभा में कांग्रेस का ये बड़ा दांव कर देगा भाजपा को भौचक्का ,
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

broken

क्या लोकसभा चुनावों में टूट जाएगा अखिलेश यादव और राहुल गाँधी का दोस्ताना

strife

भाजपा के पूर्व सांसद किसान नेता पटोले राहुल गाँधी के समक्ष शामिल हुए कांग्रेस में