in ,

मीडिया के हिसाब से देश अब नहीं चलेगा ,राहुल गाँधी बदलेंगे देश की किस्मत

मीडिया आज कल अंग्रेजो के मुखविर संघ और  भाजपा के दरबार में गुलामो की तरह अपने पैरो में पैसो के घुंघरू बाँध कर इशारे पर बिना शैली का नृत्य करता रहता हैं .

 

मीडिया आज कल अंग्रेजो के मुखविर संघ और  भाजपा के दरबार में गुलामो की तरह अपने पैरो में पैसो के घुंघरू बाँध कर इशारे पर बिना शैली का नृत्य करता रहता हैं . उन्ही  पत्रकारों के आस पास खबरों का दायरा सिमट गया हैं . अंजना ओम कश्यप जी हो या सरदाना जी आज कल भाजपा सरकार के खिलाफ बोलने वालो के ऊपर मुक़दमे यही चलते हैं .

रिपब्लिक चेनल का आज कल एक ही एजेंडा हैं . कांग्रेस के लोग सबसे देशद्रोही लोग हैं . अर्नव गोस्वामी भाजपा के प्रचारक की तरह पदम् श्री की दौड़ में हैं . ये वो मीर जाफर की तरह अनुभव होते हैं . जिन्होंने देश के राज मुग़ल सम्राट को सौपे . अंग्रेजो के साथ संघर्ष का जिक्र नहीं होता मुग़ल सल्तनत की बात होती हैं . आज भी जबकी मुग़लों की औलादों को पाकिस्तान  दे दिया गया .

गौरतलब हैं दक्षिणी दिल्ली नगर निगम(एसडीएमसी) में मुख्य सतर्कता अधिकारी(सीवीओ) पद पर टीवी चैनल ‘आज तक’ की एंकर अंजना ओम कश्यप के आईपीएस पति मंगेश कश्यप की नियुक्ति की राह में अरविंद केजरीवाल ने रोड़ा अटका दिया था . राजनाथ सिंह का गृहमंत्रालय जहां मंगेश कश्यप को सीवीओ बनाने में जुटा है .

राहुल गाँधी का बहरीन दौरा ,मुख्य अतिथी के तौर पर देंगे समापन भाषण

जो देश भक्त हिन्दुस्तानी मुसलमान थे वो ही यहाँ बचे हैं . जिन्हें इस देश की लोकशाही पर भरोसा था .मीडिया ने तो इतना गोल माल फैला दिया हैं . लगता हैं की कल ही दुसरे पाकिस्तान की मांग होने वाली हैं .

देश के युवा रोजगार के बारे में बात करते हैं उन्हें राष्ट्रद्रोही बोल दिया जाता हैं . इन मीडिया चेनलो के दिल में कोई रहम नहीं न युवाओं के लिए न देश के लिए …..

अनादि काल में देश को धकेला जा रहा हैं , अंतहीन संघर्ष की और ..जहाँ न्याय नहीं मिलेगा सी बी आई और देश की सरकार की एजेंसियाँ हर उस आवाज़ को खामोश कर देना चाहते हैं जो सवाल करते हैं . जिग्नेश मेवानी उसका शिकार हो चूका हैं . हार्दिक के साथ कब कौन सी अनहोनी हो जाए नहीं कह सकते . कांग्रेस अपनी नैतिकता राहुल गाँधी जी के नेतृत्त्व में ढूढ़ रही हैं .

हार्दिक पटेल की पसंद का नेता बना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की पसंद

राहुल गाँधी अगर इस चुनौती को सज्जनता से देने का प्रयास कर ,स्वच्छ राजनीती के पीछे भागेंगे तब शायद उनका भी दमन अंग्रेजो की मुखविर सरकार अपने तरीके से कर देगी .

उसका सबसे बड़ा कारण शिक्षा के नाम पर अभिशप्त अशिक्षा हैं .जो भाजपा शासित राज्यों में दी गयी हैं . जहाँ पर जुगाड़ लगा कर नौकरी पाने वाले इंजीनीयर अपने पद के आगे इंजीनीयर की स्पेलिंग सही नहीं लिख पाते .

जो स्पेलिंग नहीं जानते ऐसे पूर्व छात्र ही यकीन कर लेते हैं मोदी जी की बात पर की पिछले ७० साल में कुछ नहीं हुआ . और पाकिस्तान के विरुद्ध भाषण देते हुए बोलते हैं . भारत और पाकिस्तान साथ साथ आजाद हुए थे . आज पकिस्तान कहाँ हैं और हम कहाँ हैं . साथ में चुनावों में मोदी बोलते थे , ७० सालो में कांग्रेस ने किया क्या ?

एम्.पी के विधान सभा चुनावों पर जब बोले दिग्गी राजा पुत्र जयवर्धन सिंह

भाजपा शासित राज्य सरकारों में शिक्षा का मूल स्तर समाप्त प्राय कर दिया हैं . एक जाहिलो की फौज खडी कर दी गयी हैं सुन्योजित ढंग से . कट्टर हिंदुत्व का टीका लगा कर जिसको केवल यही पता हैं की मोदी जी ही पहले पी एम् हैं .

कोई एक ऐसा योगदान मोदी जी बता दें पिछले चार सालों में उन्होंने देश के लिए क्या किया .

क्या पाक का घमंड चूर किया ?

क्या एक सर के बदले दस सर ले कर आये ?

सीमा पर होती देश के सैनिको की मौत का बदला कभी लिया ?

क्या पाक से कुलभूषण को रिहा करा पाए

पी एम् क्या  युवा बेरोजगारों को नौकरिया दिला पाए ?

मोदी क्या राम मंदिर बना पाए ?

इतना बहुमत और इसके बाद भी कश्मीर से धारा  ३७० हटा पाए ?

जिग्नेश अगर गद्दार हैं तो में मानता हूँ हर सवर्ण  गद्दार हैं . वो भी रोज़गार के मुद्दे पर सवाल कर रहा हैं मोदी सरकार से .

गुजरात में भाजपा को दो डिजिट में लाने के बाद देश के लोगो का भरोसा राहुल गाँधी पर मज़बूत हुआ हैं . देश मीडिया नहीं चलाएगा .

इस देश के लोग तय करेंगे की देश किस तरह चलेगा ?

इतनी कूबत राहुल गाँधी में हैं ……….

युवाओं से ले कर अपने संगठन की बात छोडो विपक्षी बुजुर्ग नेताओं को ये नेता सम्मान देता हैं .

पी एम् मोदी झूठ बोल कर भी माफी अपने पाले हुए वित्तमंत्री से मंगवाते हैं .

मीडिया के हिसाब से देश अब नहीं चलेगा ,राहुल गाँधी बदलेंगे देश की किस्मत
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

concludes

राहुल गाँधी का बहरीन दौरा ,मुख्य अतिथी के तौर पर देंगे समापन भाषण

problems

अब केन्द्रीय मंत्री रामदास अठावले जिग्नेश के समर्थन में ,भाजपा को बड़ा झटका