facebook
Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

गुजरात चुनाव : राहुल गाँधी का पांचवा सवाल ,राजकोट में मचा हंगामा

कितना अच्छा होता आज गुजरात में वाकई जनता के हित के लिए कार्य किये गए होते तब पी एम् नरेंद्र मोदी जी को गुजरात में इतनी रैलियाँ नहीं करनी पड़ती .

0 520
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

राहुल गाँधी ने आज अपना पांचवा सवाल किया .

22 सालों का हिसाब, #गुजरात_मांगे_जवाब

प्रधानमंत्री जी- 5वाँ सवाल: न सुरक्षा, न शिक्षा, न पोषण, महिलाओं को मिला तो सिर्फ़ शोषण, आंगन वाड़ी वर्कर और आशा, सबको दी बस निराशा। गुजरात की बहनों से किया सिर्फ़ वादा, पूरा करने का कभी नहीं था इरादा।

गौर तलब हैं राहुल गाँधी गुजरात चुनाव में खासे आक्रामक नजर आ रहे हैं . भाजपा के नेता पूरी तरह बौखलाए नज़र आने लगे हैं . अब चुनाव प्रचार में भाजपाई अपने ओछेपन का परिचय भी बहुत गरिमामय ढंग से दे रहे हैं.

कल बीती रात  प्रचार के दौरान ज़बरदस्त हंगामा हुआ. दरअसल राजकोट पश्चिम सीट से कांग्रेस उम्मीदवार इंद्रनील राज्यगुरु के भाई दीपू  का पोस्टर लगाने को लेकर दूसरे पक्ष से विवाद हो गया.

राहुल गाँधी के सवालों से बौखलाए अमित शाह ने पूर्व पी एम् को नमूना कहा

कांग्रेस का आरोप हैं उसके साथ मार पीट की गयी .उस पर प्राण घातक हमला हुआ . दीपू इस समय अस्पताल में भर्ती हैं . प्रचार के दौरान कांग्रेस नेता राजीव सातव भी थे .

हमले के बाद इंद्रनील और उनके समर्थकों ने भी जमकर हंगामा किया और मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के घर को घेरने की कोशिश की. पुलिस ने इंद्रनील और उनके समर्थकों को हिरासत में ले लिया है.

गौर तलब हैं की इन्द्रनील राजकोट में मुख्यमंत्री विजय रूपाणी का मुकाबला राजकोट में मुकाबला कर रहे हैं .

राहुल गांधी पर सवाल उठाने वालो पर , भाजपा सांसद का सवाल मोदी से

कितना अच्छा होता आज गुजरात में वाकई जनता के हित के लिए कार्य किये गए होते तब पी एम् नरेंद्र मोदी जी को गुजरात में इतनी रैलियाँ नहीं करनी पड़ती .

जितना समय उन्होंने सरकारी खर्च पर चुनावों में बिताया हैं . उतना कम से कम देश के हित  में लगाया होता . इतना सारा पी एम् का समय चुनावो में खर्च हुए जा रहा हैं.

कांग्रेस को सबसे भ्रष्ट बताने वाले पी एम् मोदी और उनकी सरकार किसी कांग्रेस के नेता को गिरफ्तार तो दूर एक आरोप पत्र तक दाखिल नहीं कर पायी हैं . तब भाजपा के पी एम् और उसके नेताओं का कोई नैतिक अधिकार नहीं हैं की कांग्रेस को सबसे भ्रश बताये या यू पी ए सरकार को सबसे भ्रष्ट बताये ,

अपने आप को देश में ऐसे पी एम् के रूप में प्रचारित कर रहे हैं जो २४ घंटे में बीस घंटे देश के लिए काम करता हैं . पर चुनावों के लिए प्रचार में खर्च किया गया समय क्या देश के प्रधान सेवक का निजी हैं या देश और देश के नागरिको के साथ किया गया छल हैं .

गुजरात की जनता के सवालों का ज़बाब भाजपा सरकार दे पाने में असमर्थ हैं.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave A Reply

Your email address will not be published.