Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

2G घोटाले पर झूठे निकले भाजपा के आरोप ,2G घोटाले में सभी आरोपी बरी

आज डी राजा और कनीमोझी सहित उन सभी आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट ने आरोपों से बरी कर दिया हैं .भाजपा के झूठे आरोप की पहली पोटली खुल कर सामने आ गयी हैं .

0 325

आज डी राजा और कनीमोझी सहित उन सभी आरोपियों को सुप्रीम कोर्ट ने आरोपों से बरी कर दिया हैं .

भाजपा के झूठे आरोप की पहली पोटली खुल कर सामने आ गयी हैं .

जिस पोटली में एक लाख पिचहत्तर लाख का घोटाला विनोद राय लगाते थे .

उस पोटली में झूठे आरोपों की काली चादर निकली हैं .

उन काले झूठो और आरोपों का काला टीका जो पूर्व में यू पी ए सरकार के सर पर थोपा गया .

सालो साल संसद नही चलने दी . 2G का घोटाला जिसको ले कर डा मनमोहन सिंह की सरकार पर आरोप लगाए हैं  .

तब के दो मंत्रियों से त्याग पत्र ले लिए गए थे .

भाजपा के नेताओं द्वारा इस झूठ को इतनी बार बोला गया की लोग भी सच मान बैठे थे .

गुजरात चुनाव के बाद निर्विवादित विपक्ष का मुख्य चेहरा बन रहे हैं राहुल गाँधी

प्रधानमंत्री मोदी अपने भाषणों में अब तक इस का मन चाहा इस्तेमाल करते रहे हैं .

अक्टूबर 2011 में कोर्ट ने उनके खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम से लेकर आपराधिक षडयंत्र, धोखाधड़ी, फर्जी कागजात बनाने, पद का दुरुपयोग, सरकारी दुराचरण आदि के आरोप तय किए थे.

अप्रैल 2011 में दाखिल चार्जशीट में सीबीआई ने कहा था….

कि ‘2जी स्पेक्ट्रम से जुड़े 122 लाइसेंस गलत तरीके से आवंटित किए गए,

जिससे सरकारी खजाने को 30,984 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचा.

सुप्रीम कोर्ट ने फरवरी 2012 में सभी लाइसेंस रद्द कर दिए थे.

जिसके कारण भारत में स्लो डाउन आया . यहाँ तक की यू पी ऐ सरकार को सत्ता के बहार बैठना पड़ा .

अब 2जी घोटाले मामले में पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष  सीबीआई अदालत ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और डीएमके राज्यसभा सांसद कनिमोई समेत 25 आरोपियों को बरी कर दिया है.

अरुण शौरी का कडा बयान,भाजपा को बताया ब्रिटिश जनता पार्टी (BJP)

स्वान टेलीकॉम के वकील विजय अग्रवाल ने कहा कि प्रॉसिक्यूशन आरोप साबित करने में नाकाम रहा. सीबीआई ने तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश किया था. नुक्सान दिखाया गया था लेकिन असल में कोई नुकसान हुआ ही नहीं. लिहाजा सभी आरोपियों को बरी कर दिया गया.

डी राजा के वकील मनु शर्मा ने कहा, “किसी भी बड़े मुकदमे में वक्त लगता है लेकिन सच्चाई सामने आ गई।”
मुकदमा तो चलाया गया लेकिन कोई सबूत नहीं दिया गया .  क्रिमिनल कोर्ट की अप्रोच के हिसाब से ये मुकदमा नहीं बनता.

कपिल सिब्बल फैसले के बाद काफी नाराज़ नज़र आये उन्होंने कहा मेरी जीरो लोस वाली बात सही साबित हुई हैं . विनोद राय को पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए .

गुजरात के बाद राजस्थान में कांग्रेस की हवा,उपचुनाव में भाजपा को मात
You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.