facebook
Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

राहुल गाँधी के वायदे ,ज्यादा विश्वसनीय ,गुजरात की जनता का बदलता मन

गुजरात चुनाव में भाजपा को ज़बरदस्त पटखनी

0 149
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आवाज़ों को दबाने का जतन 

रवि शंकर शुक्ल आज कल सरकार का आई टी डिपार्टमेंट देख रहे हैं .

चुन चुन कर कांग्रेसियों की फेसबुक आई डी ब्लोक की जा रही हैं .

एक तरह से भाजपा इतना भयभीत हो गयी हैं .

उसको अपना विरोध और सही बात भी सरकार को उसकी आलोचना की तरह लग रहा हैं .

जो पहले कभी नहीं हुआ वो अब हो रहा हैं . अनुभव होता हैं फिरंगी सरकार लौट आयी हैं .

अब जनांदोलन अपने आप जाग्रत हो गया हो .

तब भला कौन सी सरकार या दुनिया की शक्ति इस को दबा पायेगी .

भाजपा के राजनैतिक रसगुल्ले कढ़ाही में ही फूटने शुरू हो गए हैं .

ठीक उसी तरह जैसे जुमले देश की जनता के बीच कच्चे ही फूट गए .

सवाल  इस बात का नहीं की वो केवल जुमले थे .

वो जुमले नहीं वायदे थे जो जनता से किये गए थे . जो युवाओं से किये गए थे.

जो किसानों से किए गए थे . वायदे जो महिला सुरक्षा के नाम पर किये गए थे .

युवा नेता हो या युवा छात्र सब के सब प्रधानमंत्री मोदी की बेवफाई का शिकार हैं .

राहुल गाँधी के सामने गुजरात में भाजपा का आत्मघाती,आत्म समर्पण ,जी एस टी पर बदले सुर

जुमले वायदे और बेवफ़ाई 

इतने वायदे तो मुहब्बत में किसी महबूबा ने किये होते और एक पर भी खरी नहीं उतरती ,अब तक तो ब्रेक अप हो गया होता .

मोदी जी भी ठहरे घाघ चमत्कारिक व्यक्तित्व के स्वामी एक साल युवाओं को सेल्फी में अटकाए रहे .

एक साल विदेश भ्रमण में लटकाए रहे और एक साल गौ माता के नाम पर निकाल दिए .

उनके दर बारी कहते रहे की विकास की बड़ी कीमत चुकानी पढ़ती हैं .

“अब धेला नहीं पास मेला लगे उदास “ सबकी यही कहानी हैं .

गुजरात चुनाव: क्या भाजपा का सूर्य अब अस्त होने को हैं ,सर्वे से मिल रहे संकेत

मोदी सरकार के टोडर मल अर्र अर्र रे गलत बोल गया वरना देश विरोधी का प्रमाण पत्र भाजपा दे देगी .

हमारे देश के वित्त मंत्री हैं आखिर उनको उनका सम्मान तो मिलना ही चाहिए .

वित्त मंत्री को खुद भनक नहीं थी की नोट बंदी हो जायेगी .

अब आज कल ब्यान ऐसे देते हैं की सब ठीक हो जाएगा आगे चल कर इसका प्रभाव देखने को मिलेगा .

विश्व के अर्थ शास्त्री भारत की विकास दर घटा देते हैं

.कहते हैं . भारत 2045 तक विकास की पटरी पर द्वारा अब लौट पायेगा.

जो विकास के नाम पर देश की बाँट लगनी थी वो लग चुकी .

सरकार अब भगवा कुर्ता पहन फिर से धर्म का डमरू चुनावों में बजाने की जुगत में हैं .

राहुल गाँधी युवाओं के साथ खड़े नज़र आते हैं .

एक अलग तरह का राजनैतिक सन्देश देने का प्रयास करते हैं .

अब राष्ट्रवादी भांग की खुमारी , भाजपा में शुद्ध होता भ्रष्टाचार

बहुत हद तक विश्वसनीय लगते हैं जब वो देश की जनता के सामने किसी भी बात को कहते हैं .

पाटीदार आरक्षण पर भी कांग्रेस की टीम ने सहमति से रास्ता निकालने का ,और पाटीदार समुदाय का विश्वास जीतने की कोशिश कम से कम ईमानदारी से की हैं .

अब देखना महत्वपूर्ण होगा की गुजरात चुनावों में जुमलों की जलेबी बांटी जायेगी .

या फिर गुजरात की जनता से सच्चे वायदों का पोहा परोसा जाएगा ?

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave A Reply

Your email address will not be published.