facebook
Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

हेल्थ सेक्टर और कंप्यूटर की दुनिया एक होने वाले हैं .मुकाबला चीन से :राहुल गाँधी

राहुल गाँधी ने बातो बातो में अपनी बात भी कही और तालिया भी खूब बटोरी

0 658
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

 

बड़ोदरा के इस सभागार में जो खचाखच भरा हुआ था . बिभिन्न क्षेत्रो से आये प्रतिनिधियों से ,जिसमे डॉक्टर इन्जीनीयर छोटे बड़े उद्योगपति ,कारोबारी ऐसा कोई क्षेत्र नहीं था जहाँ से लोग वहां नहीं जुटे थे . राहुल जी यहाँ डेढ़ घंटे देरी से पहुचे थे .

कुछ ही देर बाद उनके और वहां मौजूद लोगो के साथ सवालों और ज़बाबो का एक आयोजन था . जल्द ही लोगो ने अपने प्रशन राहुल गाँधी से पूंछने शुरू कर दिए .

बेरोजगारी पर राहुल गाँधी ने अपना साफ़ मत रखा बड़ी ही साफ़ गोई के साथ उन्होंने कहा की हमारा मुकाबला चीन से होने जा रहा हैं . जमाना रोबोटिक हैं हेल्थ सेक्टर और कंप्यूटर की दुनिया एक होने वाले हैं . हो सकता हैं आने वाले समय में मानव शरीर के अन्दर के मिनी कंप्यूटर काम कर करेगा .

जहाँ अमेरिका ड्रोन बना कर उसके बिभिन्न प्रयोग कर रहा हैं वहां चीन खिलोने वाले ड्रोन बना रहा हैं .उन्होंने आगे कहा

भारत में हर 24 घंटे में 30,000 युवा जॉब मार्केट में कदम रखते हैं लेकिन सरकार केवल 450 लोगों को ही नौकरी देने में सक्षम है. जबकि चीन की सरकार रोजाना 50 हजार लोगों को रोजगार देती है. इसके ठीक उलट चीन  हज़ारो युवाओं को रोजगार देने की स्थति में हैं .

राहुल ने कहा बहाने काम नहीं करेंगे. अगर 5-10 सालों में भारत 30 हजार से 40 हजार लोगों को रोजगार नहीं दे सकता तो कोई भी उस गुस्से को नहीं रोक सकता जो फैलेगा. राहुल ने रोजगार देने के मामले में कांग्रेस के रिकॉर्ड को बेहतर बताया .लेकिन निजी तौर पर असहमत दिखाई दिए और माना खुले दिल से की कमिया कांग्रेस सरकार में भी रही हैं .उन्होंने अपनी कांग्रेस सरकारों को  10 में से मैं कांग्रेस को 5 मार्क दिए .

अमित शाह की लूट ,कटघरे में सरकार, पियूष गोयल सफाई में क्यों उतरे ?

छोटे और मध्यम व्यवसायों को मजबूत नहीं करने की बात पर उन्होंने कहा कि बीजेपी अति करती है, कांग्रेस को भी जिस तरह से करना था नहीं किया. मैं हमारी गलती मानता हूं.

बीजेपी को घेरते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘एक नेता का काम 5-10 साल आगे देखना है. चीजों को जबरन लागू करना उनका काम नहीं है, जिससे लोगों को रोना पड़े.’

एक साथ कोई भी फैसला काम नहीं करता ,कांग्रेस ने टेलिकॉम में रिवोलुशन किया ,क्या कोई लाइन में लगा क्या कोई मारा गया ,ये सब धीरे धीरे आप लोगों ने ही किया .

राहुल गाँधी ने  कहा हमारा सिस्टम इनोवेशन को मार रहा है. आप इसे नहीं मारते, नौकरशाही मारता है, गृह मंत्रालय मारता है. जब आप कुछ नया करने की कोशिश करते हैं तो 50 लोग आपको पीछे खींच लेते हैं.

वो शिक्षा पर भी बोले उन्होंने कहा में शिक्षा के निजीकरण के विरोध में नहीं लेकिन पब्लिक और सरकारी शिक्षा संस्थानों को और बेहतर कैसे बनाया जाए . उन्होंने कहा देश के बड़े संस्थान सब पब्लिक और सरकारी हैं ,और नम्बर एक हैं . प्राइवेट संस्थानों से बेहतर हैं .

मोदी जी केआरोपों पर,राहुल गाँधी बोले झूठ बोलना देशवासियो का असम्मान

इस सभागार में जो भी कोई यहाँ बैठा था वो मंत्रमुग्ध सा बस राहुल गाँधी को सुन ही नहीं रहा था .  सबको एक अलग राहुल गाँधी देखने को मिल रहे थे .जो अपना विजन गुजरात के ही नहीं देश के सामने रख रहे थे .

अपने परिवार के बारे में भी बोला उन्होंने कहा में नेता हूँ . नेता अपने अन्दर की बात बताते नहीं हैं लेकिन में यहाँ नेता की हैसियत से नहीं आपके साथ आपके परिवार की तरह इस पर आपसे अर्थ पूर्ण तथ्यपूर्ण बहस कर रहा हूँ .

प्रशांत भूषण ने ठोकी ताल ,लड़ेंगे वायर की तरफ से केस ,अब आएगा मज़ा

अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो महंगाई को कम करने के लिए वो क्या कदम उठाएगी, इस प्रश्न के पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि महंगाई का फाउंडेशन पेट्रोल की कीमतें हैं. कीमतें बढ़ने का फायदा जनता को नहीं किसी और को जा रहा है. पेट्रोल कीमतों को GST के अंदर लाया जाना चाहिए.

हमारे  परिवार में मेरे पापा ,मेरी दादी मेरी माँ हम सबकी सोच बिलकुल अलग हैं और वो गांधीजी की सोच हैं . हम नफरत या हिंसा नहीं कर सकते . कोई हमसे कितना भी असहमत हो हमें वो ठीक न लगता हो लेकिन फिर भी हम उससे बात करेंगे . उसको सुनने का प्रयास करेंगे .  किसी की बातो पर हम क्रोध करें तब हम में और उसमे क्या अंतर रह गया .

देश में दो विचारधारा हैं सबके अपने अपने समर्थक लेकिन में कभी किसी को अपमानित नहीं कर सकता में सबका सम्मान करूँगा में कभी ये नहीं कह सकता मैं नहीं कह सकता कि मैं देश से बीजेपी को देश से मुक्त कर दूंगा  .
वो(बीजेपी) कह सकते हैं,

इन शब्दों को सुन जैसे एक तालियों और समर्थन से भरी आवाजों का शोर यहाँ गूंजने लगा था .राहुल गाँधी ने बातो बातो में अपनी बात भी कही और तालिया भी खूब बटोरी .

मोदी जी पर अपरोक्ष चुटकिया भी ली ,एक अद्भुत बात थी दिन बहर उन्होंने अमित शाह के पुत्र की कम्पनी का जिक्र किया यहाँ नहीं ,यहाँ वो एक परिपक्व विचारक की तरह पेश आये .

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave A Reply

Your email address will not be published.