facebook
Azadmanoj
Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

अमित शाह की लूट ,कटघरे में सरकार, पियूष गोयल सफाई में क्यों उतरे ?

क़ानून के दायरे में अब तक की सबसे बड़ी राजनैतिक लूट

0 1,605
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.
आज सुबह सुबह एक खबर पर नज़र पडी . द वायर नाम की वेव साईट द्वारा डाली गयी खबर जिसमे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बेटे जय शाह की कम्पनी पर अचानक से पिछले साल के मुकाबले इस साल उसके मुनाफे में पचास हज़ार से सीधे ८० करोड़ का मुनाफा .

राहुल इफेक्ट मोदी और भाजपा पर एक डर की तरह हावी हो चूका हैं

मेने वो लेख देखा और ट्विटर पर आर टी भी कर दिया उसके बाद जैसे इस खबर को देखने वालो की संख्या आश्चर्यजनक रूप से लोग किसी न किसी रूप में डालने लगे सोशल मीडिया पर अमित शाह के खिलाफ ट्रेंड चलने लगा . नरेंद्र मोदी का वडनगर इस हल्ले में कही गूम  सा हो गया .रिपोर्ट में पत्रकार ने कुछ तथ्य दिए थे .

जिनको बाद में सफाई में उतरे सरकार के मंत्री झुठला तो न सके हाँ इस खबर को झूठा बता दिया . जब पत्रकार की रिपोर्ट में दिए गए आंकड़े तो  सही तब खबर को पियूष गोयल झूठा कैसे बता रहे थे .

समझ से दूर  था मोदी जी के विकास की तरह . इस पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने भी सवाल खड़े किये . सोशल मीडिया पर चले आन्दोलन ने सरकार के मंत्रियो को सामने आने पर मजबूर होना पड़ा . लेकिन किसी प्राइवेट संस्थान के लिए सरकार के मंत्री का आ कर बचाव करना सरकार को कटघरे में खड़ा कर गया हैं .

आज का पूरा दिन आक्रामक राहुल गाँधी के नाम रहा ,मोदी का बज़ गया बेंड

हैरानी इस बात पर पियूष गोयल मान हानि के दावे की बात कर रहे थे . लेकिन आंकड़ो को झुठला भी नहीं रहे थे .

जल्द ही इसको आम आदमी पार्टी ने स्पष्ट किया ये कह कर की पियूष गोयल के मंत्री रहते इस कपनी को लाभ दिया गया .

रिपोर्ट में कहा गया था .

“नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनते और अमित शाह के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते ही उनके बेटे जय अमितभाई शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर 16 लाख गुना अधिक हो गया हैं .

 वेबसाइट ‘द वायर’ के मुताबिक रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज से प्राप्त दस्तावेजों के अनुसार जय की कंपनी की बैलेंस शीट में बताया गया है कि मार्च 2013 और मार्च 2014 तक उनकी कंपनी में कुछ खास कामकाज नहीं हुए और इस दौरान इस कपनी को क्रमश कुल 6,230 रुपये और 1,724 रुपये का घाटा हुआ था  .

भाजपा में अंदरखाने बने दो गुटों में बयानबाजी तेज़ ,क्या बगावत तय हैं ?

साल 2014-15 के दौरान उनकी कंपनी को कुल 50,000 रुपये की इनकम पर कुल 18,728 रुपये का लाभ हुआ था.  मगर 2015-16 के वित्त वर्ष के दौरान जय की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया। यह 2014-15 के मुकाबले 16 हज़ार  गुना अधिक  है.

अमित शाह के बेटे ने टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना साल 2004 में की गई थी. जय शाह के अलावा जीतेन्द्र शाह भी कंपनी में डायरेक्टर हैं. इनके अलावा अमित शाह की पत्नी सोनल शाह की भी कंपनी में हिस्सेदारी है. कंपनी के डायरेक्टर की रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी को पिछले वर्षों में 1.4 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है इसकी वजह से कंपनी की शुद्ध संपत्ति में पूरी तरह से गिरावट आई थी . जिस कारण  से अक्टूबर, 2016 में जय शाह की कंपनी ने अचानक अपने सभी कारोबार बंद कर दिए थे .

जय की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के टर्नओवर में उछाल की वजह 15.78 करोड़ रुपये का असुरक्षित  लोन है जिसे राजेश खंडवाल की फिनांशियल सर्विसेज फर्म ने उपलब्ध कराया था . यहां यह बताना जरूरी है कि राकेश खंडवाला भाजपा के राज्यसभा सांसद और रिलायंस इंडस्ट्रीज के टॉप एग्जिक्यूटिव परिमल नथवानी के समधी हैं.

जय शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के बैलेंस शीट से यह भी साफ़ जाहिर होता है कि साल 2013-14 में कंपनी के पास न तो कोई अचल संपत्ति थी और न ही कोई स्टॉक था. हालांकि, कंपनी को उस साल 5,796 रुपये का इनकम टैक्स रिफंड मिला था. साल 2014-15 में कंपनी को कुल 50,000 रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था. इसके बाद साल 2015-16 में कंपनी का टर्नओवर 80.5 करोड़ रुपये हो गया.

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Leave A Reply

Your email address will not be published.