Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

Stop acting: Do something for country “My India”

The Public World
0 92

Stop acting: do something for country “Our India”


(stop bjp )जब से मोदी सरकार का देश पर शासन हुआ ,बस विकास नहीं अभिनय देखा हैं . इस लिए (stop bjp

पी एम् से ले कर बाकी सब नेताओं का ?

‘मंगलवार को नामांकन के बाद जब वेंकैया नायडू मीडिया से रूबरू हुए तो वह काफी भावुक हो गए थे ।
उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाए जाने पर वेंकैया ने कहा…

“मैं अपने आप में काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। भारतीय जनता पार्टी की संसदीय बोर्ड की बैठक में उनके नाम पर सार्वजनिक रूप से मुहर तो लगा दी गई है.”

लेकिन उन्हें इस बात का डर सता रहा है कि देश के उपराष्ट्रपति का पद कहीं उन्हें उनकी मां से दूर न कर दे। (stop bjp
दरअसल वेंकैया ने बताया कि उन्होंने एक साल की अवस्था  में ही अपनी मां को खो दिया था . उसके बाद से ही वह भारतीय जनता पार्टी को ही अपनी मां की तरह समझते हैं। आज वही पार्टी उन्हें इस मुकाम पर लेकर आई है।

(stop bjp)

भाजपा वीरो का संवेदन शील ड्रामा वाकई कमाल हैं लगता हैं ,सब के सब रामलीला कम्पनी के नाटक पात्र हैं .

जो भगवान् श्री राम के मेक अप में अभिनय करने के दौरान ,मदिरा और तम्बाकू सहित धुम्रपान का उपयोग करते हैं .

रात्री में अभिनय करने और दुराचार करने के बाद ,भोले भाले ग्रामीणों द्वारा ईश्वर रूप में देखे जाते हैं .

एक गरीब परिवार में  जन्मे इस बेटे की पत्नी खरब पत्नी और बेटा १७ टोयोटा एजेंसियों का मालिक ?

कैसे कमाया या धन कहाँ से आया ?

सी बी आई उसके भी यहाँ छापा डाल कर पता करें की सोना धन जमीन कहाँ से मिला ?

राम के नाम पर और देशभक्ति के नाम पर इन्होने देश को लूटा और बड़े उद्योगपतियों को लुटाया  हैं .

सोशल मीडिया अब किसी के बाप की जागीर नहीं रही ,कांग्रेस के समर्थक भी इनके प्रोपेगंडा को समझ गए हैं .

एक भ्रष्टाचारी को देश के उपराष्ट्रपति के रूप में गरीब किसान का पुत्र कह कर प्रचारित किया जा रहा हैं . इन प्रत्याशी को चुनौती हैं की फसलो के बारे में जानकारी दे . इनको छोडो इनके पी एम् को खुली चुनौती बहस करें किसानो के बारे में चाय वाला जनता क्या हैं . दमन नहीं .

किसान का नाम ले कर ,किसानो की आत्महत्या का स्पष्टीकरण ,घुटे हुए पी एम् दे रहे हैं .

अपने उपराष्ट्रपति के प्रत्याशी को ले कर ?

गोपाल क्रष्ण गांधी एक नागरिक ,सामान्य नागरिक ,राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के परिवार से होना उनके अयोग्यता नहीं .

वर्ना भाजपा में बहुत योग्य एक खुली बहस देश के सामने हो जाये ,तब ज्यादा अच्छा .

फिर चुनौती देता हूँ ,इस बार एक ऐसे चेनल पर राष्ट्रव्यापी बहस हो ,जो किसी संघी ,पंखी ठनकी की विचारधारा या धान से प्रभावित न किया गया हो .

देश की जनता आज गलती कर पछता रही हैं व्यापारी से ले कर किसान और आम आदमी ,

विपक्ष को नकारा बना दिया गया हैं . प्रचार तंत्र को खरीद लिया गया हैं .

आज हमको  लगता हैं काले अंग्रेजो के गुलाम हैं ?

कुछ दलों का ज़मीर जागा हैं ,जो पहले मोदी के साथ थे ,अब गोपाल कृष्ण गांधी के साथ हैं .

बीजू पटनायक ने खुले समर्थन की बात कही हैं . गोपाल कृष्ण गांधी के लिए .

 

 

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.