in ,

राहुल गाँधी की मांग पर दिव्यांगो के उपकरणों पर से GST शुल्क में सरकार ने की कमी

rahul-demand
rgfindia.org

राहुल गाँधी की मांग पर दिव्यांगो के उपकरणों पर से GST शुल्क में सरकार ने की कमी


कांग्रेस उपाध्यक्ष द्वारा ट्विटर पर दिव्यांगो के इस्तेमाल में आने वाले उपकरणों पर से सरकार ने GST  घटा कर अब ५ % कर दिया हैं ।

दिव्यांगो से जुड़े सामान पर जी एस टी लगाये जाने का कांग्रेस समेत हर और से विरोध हो रहा था .इस विरोध के चलते सरकार ने मंगल वार को इसकी अलग अलग दरो को समाप्त कर अब 5 फ़ीसदी कर दिया हैं ।

राहुल गाँधी द्वारा सोशल मीडिया पर आलोचना के बाद ही अगले दिन सरकार ने इसकी दर पांच फ़ीसदी कर दी हैं । सरकार ने एक ब्यान जारी कर कहा हैं की ५ फ़ीसदी की दर भी इस लिए लगाई गयी हैं जससे कच्चे माल पर लगाए गए शुक्ल का मुआवजा मिल सके ।

लेकिन इनके कच्चे माल पर जी एस टी १८ % ही लगेगा .

पहले सरकार ने ब्रेल पेपर ,ब्रेल टाइप राईटर और ब्रेल घड़ी पर पांच फीसदी और व्हील चेअर हियरिंग एड पर १२ फीसदी कर कका प्रावधान किया था .

इसके साथ ही दिव्यांग जानो के लिए वाहनों पर १८ % टेक्स लगाया था ।

जिसका दिव्यांग जन और एक्टविस्ट विरोध कर रहे थे .

अब भाजपा सरकार ने भारी विरोध के चलते इन पर जी एस टी की दर मात्र पांच फ़ीसदी कर दी हैं ।

जब तक आकोश की आवाज़ नहीं लगेगी तब तक सत्ता की शानो शौकत में डूब चुकी सरकारे जनता और संवेदनाओं से बहुत दूर हो जाती हैं । तब ही ये समय उचित  होता हैं jके बीच जा कर उसकी ज़रूरते समझने का ,उसके हर छोटे मोटे दुखो के कारण जानने का !

जो एक जन नायक के लिए आवश्यक गुण हैं .

राहुल गाँधी जनता की नब्ज़ थामे खड़े हैं अब बस ये देखना हैं जी संघर्ष का बिगुल वो जनता के बीच जा कर कब बजायेंगे ?

समबन्धित लेख

Rahul Gandhi demands a ” full roll back of this ‘disability tax’”

पी एम मोदी हो या परेश रावल बोलने में क्या जाता हैं ?

एम्.पी.किसान आन्दोलन :डेलनपुर हिंसा भाजपा पार्षद के पति समेत सात गिरफ्तार

राहुल गाँधी की मांग पर दिव्यांगो के उपकरणों पर से GST शुल्क में सरकार ने की कमी
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

एम्.पी.किसान आन्दोलन :डेलनपुर हिंसा भाजपा पार्षद के पति समेत सात गिरफ्तार

meira-election

विपक्ष की राष्ट्रपति पद की प्रत्याशी मीरा कुमार “विचारधारा “पड़ेंगी भारी