facebook
News Politics

मोदीजी की गौ भक्तो को चेतावनी ,केवल एक दिखावा हिम्मत हैं तब लाओ “मसूका “

mob-lynch

मोदीजी की गौ भक्तो को चेतावनी ,केवल एक दिखावा हिम्मत हैं तब लाओ “मसूका “


गौ भक्तो को चेतावनी देता हुआ ब्यान पी एम् मोदी जी का ऐसे ही हैं जैसे किसी के चेहरे पर धुल जमी हो और वो आइना साफ़ करने लगे .

आज के हालातो के लिए मोदीजी के वो पुराने भाषण हैं जो  लोकसभा चुनावों के समय दिए थे . इस वीडियो में आप खुद सुन सकते हैं ,की किस तरह धार्मिक भावनाओं को भड़का कर राजनीती का व्यापार हुआ था .

आज मोदीजी जो इस भाषण में बोल रहे हैं . पिंक रिवोलेशन उनकी ही सरकार के अधीन हुआ हैं .

आज गऊ भक्तो को चेतावनी क्यों ?

सिर्फ चेतावनी दी गयी लेकिन उसकी जिम्मेवारी भी राज्य सरकारों पर डाल दी . कमाल के पी एम् हैं खुद के ऊपर किसी  भी समस्या की जिम्मेवारी नहीं लेते .

भावनाओं को भड़काना आसान हैं . उनको शांत करना मुश्किल ,अहिंसा में विशवास रखने वाला हिन्दू आज  आदियुग की तरफ जा रहा हैं .

सामाजिक क्षेत्रो और शिक्षा के क्षेत्रो में भाजपा की सरकारों का प्रदर्शन औसत से भी नीचा  रहा हैं .

अगर पी एम् वाकई गंभीर हैं तब “मसूका ” नामक कानून क्यों नहीं लाते ?

कल ही किसी सामाजिक बुद्धिजीवी ने एक टिप्पड़ी की थी ,सड़क दुर्घटना में मारे गए व्यक्ति के आरोप में दो साल की सजा और गौ हत्या के आरोप में गिरफ्तार व्यक्ति को १४ साल की सजा .

जीव हत्या पर सरकार को कानून ला कर अपनी स्थती स्पष्ट करनी चाहिए .

एक चेतावनी से रातो रात कुछ भी ठीक नहीं होने वाला ,इंसान को भी हक़ हैं जिन्दा रहने का .

कल मेरठ शहर की एक घट्न चर्चा में खूब रही ,थाना लिसाडी गेट पर एक गौरक्षक मुसलमान युवक ने आत्म दाह का प्रयास किया . उसकी मांग थी की उसके भाई के हत्यारे बीफ माफियाओ की गिरफ्तारी करो .पुलिस उस उठा कर ले गयी .इस युवक का नाम साजिद भारती हैं .गो सेवा के लिए उनको जाना जाता हैं .

कल एक खबर कान पुर से भी आयी सरकारी संरक्षण वाली गौ शाळा में पांच गाय मर गयी ,चारे के अभाव में .

हरियाणा से ले कर राजिस्थान की गौ शालाओ में भी बड़ी मात्र में गाय मरने की खबर आयी हैं . भाजपा सरकार की गाय के प्रति संवेदन शीलता नहीं ?

उत्तर प्रदेश में तो गाय की सेवा करने वाले खुद सी.एम महंत  योगी आदित्य नाथ जी  हैं .

Leave a Comment