facebook
Crime Gandhi Family News Politics Rahul Gandhi

राहुल गाँधी के आक्रामक तेवर ,बेबाक तंज़ भरे कटाक्ष

attacking-rahul

राहुल गाँधी की छवि सौम्य और शांत नेता के रूप में है जो अपने विरोधियों से भी प्रेम से बात करता है मगर राहुल इस छवि से आगे बढ़ रहे हैं।

राहुल की आक्रमकता और कटाक्ष भरे ट्वीटों से सरकार के मंत्री और सांसद का बौखलाहट बता रहा है कि राहुल का तीर निशाने पर लग रहा है।

जहाँ एक तरफ राहुल देश के सुरक्षा और गरीब से जुड़े मुद्दे को उठाकर जनता के पसन्द बन रहे हैं वही दूसरी तरफ सरकार, पैड मीडिया और सरकार समर्थक राहुल-राहुल की जाप के कारण जनता के बीच मजाक का पात्र बन रहे हैं।

देखा जाए तो ये कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल की सबसे बड़ी जीत ये है कि वो लगातार मीडिया में चर्चा का विषय बने हुए हैं और सरकार के नेता उन पर हमला कर रहे हैं।

राहुल की सबसे बड़ी जीत ये है कि वो लगातार मीडिया में चर्चा का विषय बने हुए हैं और सरकार के नेता उन पर हमला कर रहे हैं।

राहुल विदेश में रहकर भी भारतीय मीडिया में सबसे अधिक दिखने वाले चेहरा बने रहे और विदेश से आने के बाद जिस तरह से उन्होंने सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरा उससे सरकार बैकफुट पर नजर आ रही है।

चीन के नेताओ से मिलने पर जिस तरह से उन्होंने आक्रमक रूप में जबाब दिया वो उनके समर्थकों में उत्साह बढ़ाने का काम किया है क्योंकि मीडिया और सोशल मीडया पर करोड़ो रूपये खर्च कर भाजपा राहुल को बदनाम करने में व्यस्त है।

अमरनाथ यात्री पर हुए हमला में जैसे उन्होंने भाजपा का खूनी चेहरा लोगो के सामने रखा और बताया कि भाजपा और मोदी अपने फायदे के लिये कश्मीर में आतंक को बढ़ावा दे रही है।

राहुल जहां एक तरफ सरकार के खिलाफ हर दिन एक नया मुद्दा रखकर चर्चा का विषय बने हुए हैं तो वही दूसरे तरफ वो हर प्रदेश के नेताओ के साथ चर्चा करके जनता के मुद्दों को जान रहे हैं ताकि आने वाले चुनावों में भाजपा को पटखनी देने में आसानी हो।

GST और नोटबन्दी पर कटाक्ष भरा वीडियो ना सिर्फ उनके समर्थकों को पसन्द आया बल्कि विरोधी भी उस विडियो से GST और नोटबन्दी से हुए जंक्सन को कटाक्ष भरे लहजे में समझ रही है।

ऐसा लगता है राहुल गाँधी अब 2019 के चुनाव के लिये तैयार हो चुके हैं।

 

लेखक

आयुष कुमार मिश्र

2 Comments

  • Rahul ji निश्चित रूप से देश के अगले प्रधानमन्त्री होंगे, सभी देशवासियों को एक साथ लेकर सरकार चलाना केवल कांग्रेस को आता है

Leave a Comment