Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

Cool Meira Kumar Cool Speak On Allegation

Kolkata:Former Lok Sabha Speaker Meira Kumar addressing at Merchants' Chamber of Commerce & Industry during an interactive session on 'Challenges of Parliamentary Democracy in India' in Kolkata on Saturday. PTI Photo by Swapan Mahapatra (PTI5_6_2017_000054b)
0 107

राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार पर जहाँ सुषमा स्वराज ने एक वीडियो डाल कर उन पर रोकने और टोकने का आरोप लगाया था ।

तब उसके ज़बाब में कांग्रेस ने सुषमा का ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर डाल दिया ।

जिसमे सुषमा स्वराज मीरा कुमार की तारीफ में कसीदे गा रही हैं ,उनको गुस्सा नही आता इस बात की तारीफ कर रही हैं ।

भाजपा के कैसे भी बेसिर पैर के  आरोप अचानक ऐसे ही आते  हैं ,ठीक पुलसिया अंदाज में आरोप लगा कर मुकदमा कायम ,अब करते रहो अपने आप को निर्दोष साबित ?

आपका कचरा तो कर ही दिया पब्लिक में ?

आज  मीरा कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि वह गुजरात के साबरमती आश्रम से अपने चुनाव प्रचार  की शुरुआत करेगी, साथ ही उन्होंने सुषमा स्वराज द्वारा जारी वीडियो अटैक का भी जवाब दिया।

उन्होंने बताया  कि वह गुजरात के साबरमती आश्रम से अपने चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगी।

उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव को ‘दलित बनाम दलित’ के नजरिए से देखे जाने की आलोचना करते हुए कहा कि इससे समाज की सोच का पता चलता है।

इशारों ईशारों में मीरा कुमार ने उस आश्त्रप्ती पद के लिए सबसे पहले दलित वर्ग मानसिकता को जबाब दे दिया था जिन्होंने राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी के लिए “ये दलित समाज से आते हैं ” का प्रयोग किया था ।

इस दौरान मीरा ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के ‘वीडियो अटैक’ और ‘बंगला विवाद’ पर भी सफाई पेश की।
मोदी सरकार में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के ‘वीडियो अटैक’ का जवाब देते हुए मीरा कुमार ने कहा, ‘उस समय सभी ने अपने-अपने समापन भाषण दिए थे।

सभी ने मेरी कार्यशैली की सराहना की थी।

लेकिन, किसी ने भी यह आरोप नहीं लगाया था कि मेरा कार्य करने का ढंग पक्षपातपूर्ण था।

सुषमा स्वराज हाल ही में एक वीडियो जारी करते हुए लोकसभा स्पीकर के तौर पर मीरा कुमार की निष्पक्षता पर सवाल उठाए थे। सुषमा ने आरोप लगाया था कि 6 मिनट के भाषण के दौरान मीरा ने उन्हें 60 बार टोका था।

कांग्रेस की तरफ से सोशल मीडिया पर बंगला आवंटित और बकाया भुगतान का वो सरकारी पत्र भी डाला गया जिसके तहत कार्यवाही और निपटारा किया गया था ।

लोकसभा स्पीकर रहते हुए कथित तौर पर अपने रसूख के दम पर बंगले को स्मारक में तब्दील करने से जुड़े आरोपों का भी मीरा ने जवाब दिया। उन्होंने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा, ‘ये आरोप बिल्कुल बेबुनियाद हैं।

ये हमारी छवि को खराब  करने के उद्देश्य से लगाए जा रहे हैं। जहां तक बंगले का सवाल है तो उसे सरकार ने एक सरकारी प्रतिष्ठान को दिया है, सरकारी दफ्तर के लिए दिया है।बल्कि उसे बाबू जगजीवन राम के स्मारक के रूप में बदल दिया गया था ।

बंगले का बकाया चुकाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि उसे नियमों के हिसाब से निपटाया जा चुका है।

पूरी पारदर्शिता के साथ जनता को सूचित करते हुए उनका निपटारा किया गया है।
मीरा पर आरोप लगा था कि उन्होंने 6, कृष्ण मेनन मार्ग पर मिले बंगले को न सिर्फ 25 सालों यानी 2038 तक के लिए आवंटित करा लिया गया    था ।

नीतीश कुमार द्वारा एनडीए प्रत्याशी  रामनाथ कोविंद को समर्थन दिए जाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में मीरा ने कहा कि राजनीति में ऐसा होता है, इसमें कोई नई बात नहीं है।

मीरा कुमार ने अपने कूल अंदाज़ में  कहा कि चुनाव में समर्थन हासिल करने के लिए निर्वाचक मंडल के सभी सदस्यों को पत्र लिखा है, जिनमें नीतीश भी शामिल हैं।

You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.