Hindi News, Today's Latest News in Hindi, News - हिन्दी समाचार

ताश का घिसा पत्ता

0 84

 

जयंती नटराजन नाम
का ताश का घिसा पत्ता दिल्ली चुनाव के दौरान
विरोधी ले कर आये थे सनसनी फ़ैलाने की कोशिश हुई और यही दाव उल्टा
पड़ने वाला था मोदी के लगाये कुछ आरोपों झूठ का पुलिंदा बनाने को तय्यार थे जयंती नटराजन
श्री राहुलजी पर आरोप लगाते हुए बोल गयी थी की श्री राहुलजी उनसे
आदिवासीओ .किसानो  तथा मजदूरो सम्बन्धी पर्यावरणीय हितो का ध्यान रखने
के लिए आग्रह करते थे जिसको हम आदेश मान कर पालन करना पड़ता था ……इसमें बुरा क्या
था अगर एक गरीब ,मजदूर ,जंगल और आदिवासी लोगों के हितों की बात करने वाली पार्टी का
नेता  अपनी सरकार से यही आशा रखेगा  की वो उन लोगों का ध्यान रखे जिनके साथ वो हमेशा
खड़े थे ……..

और एक अति उत्साही
चाटुकार मंत्री प्रकाश ज़ब्ड़े जी का बयाँ आने में देर नहीं लगी सी.बी.आई. जांच करायेंगे
इतना विशवास सी.बी.आई .पर कही उसको तोता कहने वालों ने उसको अपना मिठ्ठू तो नहीं बना
लिया था ?

अरे शर्म करो मीडिया
,मुखोटा पहन कर राजनीति करने वालों धिक्कार हैं जिस गरीब का नारा देते हो जिस आदिवासी
की बात करते हो बोलने से पहले सोचा तो होता …..

आन्दोलन क्या होता
हैं जेल कैसे भरी जायेंगी सडको पे जब काफिला हम वतनपरस्तो का निकलेगा तुम सबको हिन्दोस्तान
की तो छोडो दुनिया में मुह छुपाने की जगह नहीं मिलेगी जनता माथे लगाती हैं पर ज़मीन पर जब पटकती
हैं तो पता नहीं चलता गरीबों ,किसानो ,और आदिवासिओं से खेलना बंद करो एक बात तो साबित
हो गयी थी श्री राहुलजी की नज़र अपनी ही सरकार में गलत काम करने वालों पर तो रहती थी  देश के एक सज़ग प्रहरी की तरह और अब समझ आया कुछ
उद्योगपतिओं का राज़
You might also like

Leave A Reply

Your email address will not be published.